गोदावरी बायोरिफायनरीज् लिमिटेड.

हम गन्ने का मूल फीडस्टौक के रूपमें इस्तेमाल करके शक्कर, अन्य खाद्य उत्पाद, जैवइंधन, रसायन, ऊर्जा, कंपोस्ट, मोम और संबंधित उत्पाद निर्माण करने वाली जैवसंस्कार (बायोरिफाइनिंग) कंपनी है। हमारे फीडस्टौक से अधिकतम मूल्य निकालने के लिए अविरत संशोधन एवं नवप्रवर्तन करके नये उत्पादोंकी निर्मिती करना और नए बाजारोंमे प्रवेश करना, यह हमारा मुख्य ध्येय है। हमारा संशोधन निरंतर कृषीकर्म, बायोमास का रुपांतरण (रसायन, यांत्रिकी और जैविक), उत्पादनसुधार और प्रक्रिया अनुकूलन इन क्षेत्रोंमे चलता रहता है। १९३९ में स्थापन हुई यह कंपनी बायोमास के विकास, प्रक्रिया एवं वापर के माध्यमसे अलग अलक किस्म के उत्पादोंकी निर्मिती में अग्रणी मानी जाती है। अब बगैस आधारीत बायोरिफायनरी के बारें मे काम कर रहे है। इसीके साथ शक्कर के बायोपॉलिमरमें के जैवरुपांतरण पर हमारा कार्य शुरू है।

आगे पढीए...

संशोधन एवं नवप्रवर्तन

जैवभार (बायोमास) में अधिकतम सुधार लाने पर गोदावरी रिफायनरीज का संशोधन जारी है।बायोरिफायनिंग क्षेत्र में सबसे बडी तकनिकी समस्याएं...

आगे पढीए

स्थिरता

प्रगतीशील स्थिरता हमारी परंपरा है। हमारे संस्थापक के ''तुम्हे जितना मिलता है, उससे ज्यादा समाज को दो'' इस विचार पर हमारी कंपनी की नींव रखी गयी है।

आगे पढीए

कोर्पोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी

स्थानिक समुदायों की उपजीविका और महिला सबलीकरण के लिए आर्थिक, पर्यावरणीय एवं सामाजिक विकास के लिए हम काम करते है।

आगे पढीए

Updates

Corporate
Media Coverage | Jun 08, 2021
India advances 20% ethanol blending target by 5 years to 2025; experts weigh in
Read More

Mr. Samir Somaiya in interaction with Manisha Gupta, CNBC TV18 on ethanol blending target

Read More
Corporate
Media Coverage | Jun 07, 2021
Godavari Biorefineries to deliver more than 100 million litres in EBP Programme
Read More

Mr. Samir Somaiya, CMD – Godavari Biorefineries Ltd. sharing his views on EBP Roadmap

Read More
Corporate
Media Coverage | Jun 07, 2021
Godavari Biorefineries to expand ethanol capacity
Read More

The company is planning to expand its ethanol capacity to 600 klpd in 2022 as our aim is to deliver more than 100 million litres to this programme

Read More